कुमाऊँ

आखिर क्यों पर्यटकों ने थर्टीफस्ट पर नैनीताल से मोड़ा मुंह

नैनीताल। हर वर्ष थर्टीफस्ट पर सरोवर नगरी नैनीताल में देश के अलग-अलग राज्यों से हजारों की संख्या में सैलानी पहुंचते थे। लेकिन इस वर्ष थर्टीफस्ट का जश्न मनाने के लिए काफी कम संख्या में लोग नैनीताल पहुंचे हैं। जिसके चलते स्थानीय व्यवसाययों के चेहरों पर काफी मायूसी देखने को मिल रही है। होटल कारोबारी का कहना है कि अधिकांश होटल खाली पड़े हैं। वहीं लेक ब्रिज चुंगी संचालक,पार्किंग शटल सेवा,टैक्सी चालक,वोट चालक,गाइड,व छोटे बड़े दुकानदार का कहना है कि पहली बार थर्टीफस्ट पर इतना सन्नाटा छाया रहा।आगे पढ़ें

यह भी पढ़ें 👉  जोशीमठ आपदा प्रभावितों को राहत देने में राज्य सरकार नाकाम: नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य

बता दे की खचाखच भरे रहने वाले रूसी बाईपास दिनभर खाली पड़ा रहा।आखिर इस बार क्यों इतनी कम संख्या में सैलानी नैनीताल पहुंचे इस पर सभी लोग मंथन करने लगे है।लोगो का कहना है कि ऐसे में कैसे पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।

To Top

You cannot copy content of this page