कुमाऊँ

नैनीताल हुआ पैक,होटलों के लिए भटकते रहे पर्यटक,गुनगुनी धूप में सैलानियों ने उठाया सरोवर नगरी के नैसर्गिक सुंदरता का उठाया लुत्फ

नैनीताल। क्रिसमस से दो दिन पूर्व शनिवार से ही नैनीताल में सैलानियों की भारी संख्या देखने को मिली जिसके चलते शनिवार शाम तक ही नगर के लगभग सभी होटल पैक हो चुके थे।और रविवार को भी भारी संख्या में सैलानी नैनीताल पहुचे थे ऐसे में बिना होटल बुकिंग के पहुचे लोगो को फजीहत भी उठानी पड़ी,शनिवार को भी होटल नही मिलने से कई लोगो ने पार्किंग में अपनी गाड़ियों में ही रात गुजारी तो वही रविवार को भी लोग सुबह से ही लोग होटलों की तलाश में जुटे हुए थे,लेकिन फिर वही उनके हाथ निराशा ही लगी।हालांकि प्रशासन ने शनिवार दोपहर बाद ही बिना पार्किंग वालों को ऋषि बाईपास पर ही रोकना शुरू कर दिया था लेकिन उसके बावजूद टैक्सी व बसों से काफी संख्या में सैलानी नैनीताल पहूंचे।आगे पढ़ें….

गुनगुनी धूप में सरोवर नगरी का उठाया लुत्फ।नगर की सभी पार्किंग फूल हो जाने के बाद प्रशासन ने रविवार को रूसी बाईपास नारायण नगर व भवाली मस्जिद तिराहे पर गाड़ियों को रोकना शुरू कर दिया था।जहां से शटल के माध्यम से लोगो को शहर में भेजा गया जिसके चलते सैलानियों को नगर भृमण के दौरान कम दिक्कतों का सामना करना पड़ा।वही रविवार को नगर में सुबह से गुनगुनी धूप में सैलानियों ने नैनीझील में नौकायन का लुत्फ उठाया तो बारापत्थर क्षेत्र में घुड़सवारी की तथा रोपवे से व हिमालय दर्शन क्षेत्र से नैनीताल की सुंदरता को अपने कैमरो में कैद किया तथा पंत पार्क भोटिया मार्किट व मॉल रोड से जमकर खरीदारी की जिससे व्यवसाययों के चेहरे पर रौनक देखने को मिली।आगे पढ़ें……

यह भी पढ़ें 👉  विनय कुमार पीटीए अध्यक्ष व  तारा बिष्ट बनी एसएमसी अध्यक्ष

सभी पर्यटन स्थलों पर की गई है पुलिस की तैनातीएसएसपी प्रहलाद नारायण मीणा ने बताया कि क्रिसमस व थर्टीफस्ट पर यातयात व्यवस्था व किसी भी अनहोनी से निपटने के लिए बाहर से भी पुलिस बुलाई गई है।रूसी पर गाड़ियों को रोककर होटल की बुकिंग होने के बाद ही गाड़ियों को प्रवेश दिया जा रहा है अन्यथा शटल के माध्यम से भेजने की व्यवस्था की गई है। यातायात व्यवस्था सुचारू रखने के लिए दोपहिया वाहनों को प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। तथा यात्रियों की सुरक्षा व यातायात सुचारू रखने के लिए सभी पर्यटन स्थलों पर पुलिस कर्मियों की तैनाती की गई है।

To Top

You cannot copy content of this page