कुमाऊँ

महिलाओं को फैंसी मोमबत्ती बनाने का प्रशिक्षण शरू

नैनीताल। चेष्टा विकास कल्याण समीति ज्योलीकोट की ओर से महिलाओं को फैंसी मोमबत्ती बनाने का प्रशिक्षण शुरू कर दिया है। प्रशिक्षण 12 दिनों तक दिया जाएगा। चेष्टा संस्था की ओर से ज्योलीकोट क्षेत्र में महिलाओं के लिए 12 दिवसीय फैंसी मोमबत्ती बनाने का प्रशिक्षण शुरू कर दिया है। कार्यक्रम समन्वय मुकुल कुमार ने बताया कि नाबार्ड के सहयोग से महिलाओं को फैंसी मोमबत्ती बनाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा।  प्रशिक्षण में 30 महिलाएं प्रतिभाग कर रही हैं। प्रशिक्षण के बाद संस्था की ओर से महिलाओंका को रोजगार व बाजार दिलाने में मदद की जाएगी। जिसके चलते संस्था की ओर से शुक्रवार को प्रशिक्षण की शुरुआत की गई। जिसमें नाबार्ड से मुकेश बेलवाल मुख्य अतिथि रहे। उन्होंने बताया कि नैनीताल एक पर्यटन स्थल है जहां फैंसी मोमबत्तियां की बहुत मांग है। महिलाएं मोमबत्ती बनाकर निश्चित तौर पर आत्मनिर्भर होंगी। जिसके लिए सभी विभाग और बैंक उनको सहयोग करेंगे।आगे पढ़ें

यह भी पढ़ें 👉  जीवन को प्रकाशित करना है तो शक्ति की आराधना जरूरी:आचार्य मनोज कृष्ण जोशी

इस दौरान उत्तराखंड ग्रामीण बैंक से रीजनल मैनेजर केएम शर्मा द्वारा बताया गया कि महिलाओं को आगे बढ़ाने के लिए उत्तराखंड ग्रामीण बैंक हमेशा साथ खड़ा है और आगे भी साथ रहेगा ।उनके द्वारा बैंक की सभी  योजनाओं को विस्तार पूर्वक समझाया गया ।कृषि विज्ञान केंद्र ज्योलीकोट से डॉक्टर सुधा जुकरिया द्वारा बताया गया कि विभाग के द्वारा उनका समय-समय पर फॉलो किया जाएगा और साथ ही बिजनेस को बढ़ाने के लिए जरूरी बातों का ध्यान देना है। उद्घाटन समारोह में उत्तराखंड ग्रामीण बैंक से नैनवाल  द्वारा बैंक से  मिलने वाली योजनाओं के बारे में बताया गया मास्टर ट्रेनर रक्षिता बोरा द्वारा परीक्षण दिया जाएगा। इस दौरान मास्टर ट्रेनर रक्षित बोरा, कंचन बिष्ट, बीना जोशी, सविता, रमेश चंद्र ,आरती ,रेनू , किरन, निर्मला, राधा, लतिका व प्रेम देवी आदि मौजूद रहे।

To Top

You cannot copy content of this page