धर्म-संस्कृति

वेदिका और पूनम बनी गोल्डी मेहंदी क्वीन

नैनीताल। लेकसिटी वेलफेयर क्लब द्वारा रविवार को विशब शॉ पब्लिक स्कूल में गोल्डी मेहंदी रचे मेरे हाथ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में जूनियर एवं सीनियर दोनों वर्गों में कुल 326 छात्राओं एवं महिलाओं ने प्रतिभाग किया।गोल्डी मेहंदी प्रतियोगिता के निर्णायक स्नेहा अग्रवाल व राखी अग्रवाल ने बताया कि जूनियर वर्ग में एक घंटे का समय एवं सीनियर वर्ग में डेढ़ घंटे का समय प्रतिभागियों को दिया गया था। सभी प्रतिभागियों को गोल्डी मेहंदी कौन एवं गोल्डी नूडल्स दिये गए।आगे पढ़ें

जूनियर एवं सीनियर वर्ग की प्रथम विजेता को अमेरिकन डायमंड से सजा ताज व स्मृति चिन्ह प्रदान किया गया। जूनियर क्वीन का खीताब वेदिका आर्या प्रथम, कुमारी रोजम दूसरे व कुमारी दीशा दूसरे व तीसरे स्थान पर रही, सीनियर वर्ग में गोल्डी मेहंदी क्वीन का किताब पूनम को मिला अंजली आर्य दूसरे व साइमा खान तीसरे स्थान पर रही। वही कार्यक्रम के दूसरे चरण में गोल्डी तीज क्वीन नैनीताल का भी आयोजन किया गया।जिसके परिणाम सोमवार को घोषित किए जाएंगे।आगे पढ़ें

यह भी पढ़ें 👉  निर्वतमान सभासद जगाती बैठे धरने पर,आमरण अनशन की दी चेतावनी

इस दौरान गोल्डी तोल मोल के बोल एवं क्विज प्रतियोगिता भी कराई गई जिसके 24 विजेताओं को लेकसिटी वेलफेयर क्लब अध्यक्ष मीनू बुधलाकोटी, गोल्डी मेहंदी प्रतियोगिता की संयोजक दीपा रौतेला, निर्णायक स्नेहा, राखी, पायल अग्रवाल गोयल, एवं अक्षत अग्रवाल द्वारा पुरस्कृत किया गया। मुख्य अतिथि नीलम रानी ने कहा कि भारतीय संस्कृति की प्रतीक मेहंदी का वर्तमान में धार्मिक एवं फैशन की दुनिया में महत्व बढ़ गया है, मेहंदी हिंदू मुस्लिम सिख इसाई सभी धर्मों में समान रूप से लोकप्रिय है,मेहंदी खुशहाली एवं सुहागिन की प्रतीक भी है।आगे पढ़ें

इस दौरान दीपा रौतेला, सोनू शाह,तनु सिंह, लेक सिटी क्लब के अध्यक्ष मीनू बुधलाकोटी, सचिव रमा भट्ट,रानी शाह,प्रेमा भट्ट,प्रेमा अधिकारी, ज्योति दढ़ियाल,अमिता शाह,कविता त्रिपाठी,दीपिका बिनवाल,दीपा पांडे,लीला राज,कंचन जोशी,कनिका रावत,सीमा सेठ,दया कुंवर,विनीता पांडे,कविता गंगोला,जीवंती भट्ट,रेखा जोशी,डॉ प्रगति जैन,संगीता श्रीवास्तव,आभा शाह,अनीता अग्रवाल,अक्षत अग्रवाल,सानविका अग्रवाल सिद्धार्थ अग्रवाल,संतोष साह आदि मौजूद रहे।

To Top

You cannot copy content of this page