कुमाऊँ

शहीद संजय पंचतत्व में हुए विलीन,हजारो लोगों ने नम आंखों से दी अंतिम विदाई,एक माह पूर्व हुआ था दादा का देहांत:देखें वीडियो

नैनीताल। जम्मू कश्मीर के राजौरी में तैनात 9 पैराशूट स्पेशल फोर्स के लांस नायक 30 वर्षीय संजय बिष्ट अपने फर्ज को निभाते हुए शहीद हो गए।खबर मिलते ही पूरे क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ पड़ी।जिसके बाद शुक्रवार को उनके पार्थिव शरीर को रातिघाट लाया गया जहां पर पूरे सैन्य सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। जैसे ही शहीद का शव घर पंहुचा तो परिजनों को रोते देख सभी लोगो की आंखे नम हो चुकी थी।इस दौरान हजारो की संख्या में लोगो ने नम आंखों से अपने लाल शहीद संजय को अंतिम विदाई दी।आगे पढ़ें

बता दे कि शहीद संजय बिष्ट के परिवार में दादी,पिता देवेंद्र बिष्ट माता मंजू बिष्ट,बड़ा भाई नीरज बिष्ट व छोटी बहन  ममता बिष्ट है। जबकि बड़ी बहन विनीता बिष्ट शादीशुदा है शहीद संजय बिष्ट के पिता देवेंद्र सिंह बिष्ट रातीघाट में पोस्टमेन के पद पर कार्यरत है,जबकि बड़े भाई नीरज बिष्ट सामाजिक कार्यकर्ता हैं। वही उनके दादा कुशल सिंह बिष्ट का एक माह पूर्व ही देहांत हुआ था।इस दौरान वे गांव आये थे और एक नवंबर को वापस अपनी ड्यूटी पर चले गए और गुरुवार को आतंकवादियों से मुठभेड़ में देश के लिए उन्होंने अपने प्राण न्योछावर कर दिए।

यह भी पढ़ें 👉  15 जून कैंची मेले में नही बना पाएंगे रील व वीडियो खाद्य व पेय पदार्थों के वितरण पर भी लगा प्रतिबंध
To Top

You cannot copy content of this page