कुमाऊँ

आपदा के दौरान कोताही बरतने वाले अधिकारियों की खैर नही

नैनीताल। मानसून सीजन को लेकर उपाध्यक्ष राज्य सलाहकार समिति, आपदा प्रबंधन विभाग विनय रूहेला ने आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के साथ ही विभिन्न विभागों की आपदा की तैयारियों को लेकर बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार मे समीक्षा बैठक की। उन्होंने मानसून सीजन के दौरान संभावित आपदाओं को लेकर तैयारियों को चाक-चौबंद रखने के निर्देश दिए। बैठक मेें मुख्यमंत्री  पुष्कर सिंह धामी द्वारा वीडियो संदेश के जरिये आपदा के दौरान अधिकारियों को आपदा प्रभावित  क्षेत्रों में युद्व स्तर पर कार्य करने के निर्देश दिये। कहा कि आपदा संबंधी अलर्ट और सूचनाओं का समय पर प्रचार-प्रसार जरूरी है। कहा कि कंट्रोल रूम में जेसीबी, एंबुलेंस के साथ ही अन्य महत्वपूर्ण नंबर होने चाहिए। उन्होंने सड़क कनेक्टिविटी बाधित होने पर पैदल मार्गों का निरीक्षण कर व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।साथ ही आपदा प्रभावित पशुवंश को समय पर उचित उपचार मिले, इस दिशा में भी डाक्टरों तथा दवाइयों की व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा।आगे पढ़ें…..   

अपर जिलाधिकारी  पीआर चौहान ने बताया कि आपदा से पूर्व पर्वतीय क्षेत्रों में लोगों को अगस्त माह तक का राशन उपलब्ध करा दिया गया है तथा आपदा से निपटने हेतु क्षेत्र में सडकों पर जेसीबी की तैनाती कर दी गई है आपरेटर का मोबाइल नम्बर कन्टोल रूम में उपलब्ध करा दिया गया हैै। आपदा से पूर्व जनपद के शहरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों के नालों, नहरों की साफ सफाई करा दी गई है कमेटी द्वारा इसका सत्यापन भी करा दिया गया है।आगे पढ़ें…….

यह भी पढ़ें 👉  बारिश पर लगा विराम गुनगुनी धूप और कोहरे से नैनीताल की नैसर्गिक सुंदरता पर आया निखार

आपदा मुआवजा राशि में बढ़ोतरी पर किया जाएगा विचार।नैनीताल। आपदा प्रबंधन विभाग सलाहकार समिति उपाध्यक्ष विनय रुहेला ने बैठक के बाद नैनीताल क्लब में पत्रकारो को संबोधित करते हुए कहा कि मानसून सीजन को लेकर सरकार पूरी तरह से तैयार है।और सभी विभागीय अधिकारियों को आपदा से निपटने के लिए 24 घंटे तैयार रखने के निर्देश दिये गया है।और अगर किसी अधिकारी द्वारा कोताही बरती गई तो उस पर सख्त कार्रवाई भी की जा सकती है।कहा कि आपदा मुआवजा राशि में भी बढ़ोतरी करने के सुझाव मिले है जिस पर विचार किया जा रहा है।कहा कि आपदा से निपटने के लिए विभागों को उपकरण उपलब्ध करा दिए गए है।वही इस दौरान निवर्तमान सभासद कैलाश रौतेला ने कृष्णापुर क्षेत्र में हुए भूस्खलन पर अभी तक कोई कार्यवाही नही होने को लेकर ज्ञापन सौपते हुए कहा कि मानसून सीजन के दौरान फिर सी आवासीय क्षेत्र में पत्थर गिरने लगे है जिससे लोगो में भय का माहौल बना हुआ है।इस दौरान विधायक सरिता आर्य,मंडल अध्यक्ष आनंद  बिष्ट,संसद प्रतिनिधि गोपाल रावत,मनोज जोशी,विक्रम रावत,संतोष,शिवांशु,भावना मेहरा आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे।

To Top

You cannot copy content of this page