क्राइम

नैनीताल को बम से उड़ाने की धमकी देने वाला नितिन उर्फ खालिद पुलिस गिरफ्त में

नैनीताल। नैनीताल को बम से उड़ाने की चेतावनी भरी मेल पुलिस के इंस्ट्राग्रेंम पेज में डालने वाले को एस.टी.एफ.ने आंध्र प्रदेश से गिरफ्तार कर लिया है। भारी पुलिस सुरक्षा में ‘खालिद’ को मैडिकल के लिए बी.डी.पाण्डे अस्पताल लाया गया।आगे पढ़ें

वर्ष 2022 में नैनीताल पुलिस के ऑफिशियल इंस्ट्राग्रेंम पेज पर किसी नितिन शर्मा नामक यूजर ने टैग कर लिखा हम नैनीताल के अलग अलग स्थानों में 24 घंटे के भीतर बम विस्फोट करेंगे। हर बम फूटेगा और हिजबुल मुजाहिद्दीन इसकी जिम्मेदारी लेता है”। पुलिस को ऐसे ही दो धमकी भरे संदेश मिले। राष्ट्रीय सुरक्षा और बम बिस्फोट से जनहानि के खतरे को देखते हुए तल्लीताल थाने में 40/23 धारा 66 एफ आई.टी.एक्ट में मुकदमा पंजीकृत किया गया। उच्चाधिकारियों ने मामले को तुरंत क्राइम पुलिस स्टेशन को स्थानातरित किया। एस.टी.एफ.की दो टीमों का गठन किया गया, जिसमें एक टीम को तकनीकी विश्लेषण का दायित्व सौंपा गया और दूसरी टीम को अभियोग के सफल अनावरण के लिए विवेचना दी गयी। जानकारी के अनुसार दिल्ली निवासी नितिन ने अपना धर्म परिवर्तन कर ‘खालिद’ नाम से पहचाना बनाई और हाल निवास आन्ध्रप्रदेश बनाया। नितिन उर्फ ‘खालिद’ ने चार अक्टूबर 2022 को नैनीताल कन्ट्रोल रुम को इस प्रकार की भ्रामक सूचना दी थी, जिसमें नैनीताल के अलग अलग स्थानों को बम बलास्ट करने की सूचना दी गयी थी। एस.एस.पी.पंकज भट्ट ने बताया की एस.टी.एफ.की टीम आंध्र प्रदेश से आरोपी को गिरफ्तार कर के लाई है। आज दोपहर आरोपी ‘खालिद’ को मैडिकल के लिए नैनीताल के बी.डी.पाण्डे अस्पताल में लाया गया। फिर न्यायालय में पेश किया गया।आगे पढ़ें

यह भी पढ़ें 👉  बेतालघाट महोत्सव का श्रेय आयोजको को:हेम आर्य

तल्लीताल एसओ रोहिताश सिंह सागर ने कहा कि आरोपी मूल रूप से बलजीत नगर, थाना पटेल नगर, नई दिल्ली निवासी नितिन शर्मा को न्यायालय में पेश किया गया। उन्होंने बताया कि पूछताछ में आरोपी ने खुद को दिल्ली का निवासी बताया। धर्म परिवर्तन कर खालिद नाम से पहचाने जाने और आंध्र प्रदेश में रहने की बात कही। इससे पूर्व भी उसने पिछले वर्ष चार अक्टूबर को नैनीताल कंट्रोल रूम में फोन कर विभिन्न स्थानों पर बम ब्लास्ट करने की धमकी दी थी।

To Top

You cannot copy content of this page