खेल समाचार

एमएस धोनी अपने गांव अल्मोड़ा में,धेली में खिंचवाई फ़ोटो,भात,भट के डूबके व मूली की टपकी का लिया आनंद,आमा से लगाये दुख-सुख

नैनीताल। मंगलवार देर रात नैनीताल पहुंचे पूर्व भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान एमएस धोनी निजी दौरे पर नैनीताल पहुंचे और बुधवार सुबह वे अपने पैतृक गांव जैंती ल्वाली अल्मोड़ा की ओर रवाना हो गए।जहां पर उन्होंने भूमिया मंदिर में पूजा अर्चना कर विश्व कप में भारत और न्यूजीलैंड के बीच हो रहे सेमीफाइनल में भारत की जीत के लिए दुआ मांगी।इस दौरान उन्होंने अपने पैतृक घर की धेली पर बैठकर फ़ोटो खिंचवाई तथा ग्रामीणों के सात मुलाकात कर उनके साथ काफी देर तक बातचीत की जिसके बाद वे डोलमार की ओर रवाना हो गए बताया जा रहा है कि देर शाम तक वे कैंची धाम में भी दर्शन करेंगे।आगे पढ़ें

ग्रामीणों ने बताया कि धोनी व साक्षी ने काफी देर तक गांव में समय बिताया,और अपने क्रिकेट के अनुभव भी शेयर किए और भट के डूबके भात व मूली की टपकी का आनंद लिया।तथा जल्द ही दुबारा आने का वादा भी किया।आगे पढ़े

यह भी पढ़ें 👉  ऑल इंडिया वूमेन कांफ्रेंस की बैठक

बता दे कि मंगलवार को ही धोनी को बाबा नीम करौली के दर्शन करने थे लेकिन मंदिर परिसर में उनके प्रशंसकों की भीड़ को देखते हुए सुरक्षा कारणों के चलते उन्हें वापस नैनीताल लौटना पड़ा।बता दे कि जैसे ही मंगलवार को धोनी के नैनीताल पहुंचने की खबर उनके प्रशंसकों को लगी तो कैंची धाम में लोगों की भीड़ जुटनी शुरू हो गई जिसके चलते मंगलवार को धोनी बाबा के दर्शन नहीं कर पाए।

To Top

You cannot copy content of this page