कुमाऊँ

नैनीताल में 43 एनएम बारिश एक दर्जन से अधिक मार्ग बाधित,झील के जलस्तर ढाई फिट की बढ़ोतरी

नैनीताल। मानसून सीजन ने शुरुवाती दौर में ही रौद्र रूप अख्तियार कर लिया है।जिसके चलते भूस्खलन व पहाड़ियों से पत्थर गिरने की घटनाएं बढ़ने लगी है।मंगलवार देर रात से बुधवार दोपहर तक हुई बारिश के बाद जहा नैनीझील का जलस्तर बढ़ गया,सूखने के कगार पर पहूंच चुके प्राकृतिक जल स्रोत भी पुनर्जीवित हो चुके है तो वही कई सड़क मार्ग बाधित हो चुके है।मौसम केंद्र के अनुसार नैनीताल नगर में बीते 24 घंटो में 43 एमएम बारिश दर्ज की गई और पूरे जनपद में एक दर्जन से अधिक सड़क मार्ग बाधित है।हालांकि प्रशासन मार्गो पर यातायात सुचारू करने में जुटा हुआ है।बुधवार सुबह भवाली मार्ग पर मलवा आने से काफी देर तक यातायात भी बाधित रहा।जिससे सड़क के दोनों ओर गाड़ियों का लंबा जाम लगा रहा। मौसम केंद्र जीआईसी के अनुसार बुधवार को नगर का अधिकतम तापमान 17 डिग्री तो वही न्यूनतम 14 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वही  झील के जलस्तर में ढाई फीट की बढ़ोतरी दर्ज की गई है।आगे पढ़ें कौन से मार्ग है बाधित

यह भी पढ़ें 👉  दो दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश पर लगा विराम खिली धूप, भवाली-अल्मोड़ा हाईवे बंद,बिजली गुल,चार्टन लॉज भूस्खलन की रोकथाम के लिए लगाई तिरपाल सब्जी के दाम छू रहे आसमान

जनपद में ये मार्ग है बाधित।पंगोट-दचोरी मार्ग,देवीधुरा सौड़ मार्ग,मटियाला कनर्खा मार्ग,सिलियाकोट अनेपा मार्ग,कोटाबाग देवीधुरा मार्ग,खन्स्यु रिखाकोट मार्ग,ओखलकांडा चकसाडोला मार्ग,भण्डारपानी पाटकोट मार्ग,मौरनोला भण्डारपानी मार्ग,हरीशताल मोटर मार्ग,भूजियाघट सूर्यागांव मार्ग,गांधीग्राम पस्तौला मार्ग,अमृतपुर बानना बाबियाड मार्ग

To Top

You cannot copy content of this page