कुमाऊँ

नैनीताल में जमकर बरसे मेघा,सैलानियों ने बारिश में भीगते हुए उठाया नैसर्गिक सुंदरता का लुत्फ

नैनीताल। लंबे इंतजार के बाद आखिरकार नगरवासियों को गर्मी से राहत मिली है।शुक्रवार को सुबह से गुनगुनी धूप के बाद दोपहर को अचानक तेज बारिश का दौर शुरू हुआ जो एक घंटे से अधिक समय तक चला।जिसके बाद ना केवल गर्मी से राहत मिली है बल्कि सूखने के कगार पर पहुंच चुके प्राकृतिक जल स्रोत और धीरे-धीरे निम्न स्तर पर पहुंच रहा नैनी झील के जलस्तर में बढ़ोतरी हुई है। मौसम केंद्र जीआईसी के अनुसार शुक्रवार को नगर में अधिकतम तापमान 23 डिग्री तो वही न्यूनतम 14 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। बता दे कि बीते मंगलवार तक नगर में 34 डिग्री तक तापमान पहूंच चुका था।आगे पढ़ें….

बुधवार व गुरुवार को हुई हल्की बारिश के बाद शुक्रवार को नगर में करीब करीब तीन बजे हल्की बारिश शुरू हुई तो सैलानियों ने जमकर बारिश में भीगते हुए सरोवर नगरी की सुंदरता का लुत्फ उठाया।और फिर अचानक बारिश ने तेज रुख अख्तियार कर लिया तो ऐसे में लोग बारिश से बचने की जगह ढूढने लगे।वही हमेशा पर्यटकों से  खचाखच भरा रहने वाला पंत पार्क में छाता विक्रेताओं की जमकर विक्री हुई।बारिश ने एक घंटे तक लोगो को दुबकने पर मजबूर कर दिया तो कई सैलानी तेज बारिश में भी रंग बिरंगी छतरीयो के सहारे पंत पार्क मॉल रोड व भोटिया बाजार में बारिश का आनंद लेते रहे तो कुछ झील में बारिश के बीच भी नौकायन करते नजर आए हालांकि तेज बारिश के बाद नौकायन का संचालन बंद कर दिया गया था।शाम पांच बजे बारिश थमने का बाद नैनीताल का मौसम काफी मनोरम हो चुका था।आगे पढ़ें….

यह भी पढ़ें 👉  सूखाताल झील को टूरिस्ट डेस्टिनेशन बनाने की कवायद शुरू

झील के जलस्तर में करीब ढाई इंच की हुई बढ़ोतरी।नैनीताल।शुक्रवार को नगर में 30 एमएम बारिश दर्ज की गई तेज बारिश से जहां लोगो को गर्मी से राहत मिली तो वही सरोवर नगरी की शान और नगर की 50 हजार आबादी सहित हर रोज हजारों सैलानियों की प्यास बुझाने वाली नैनीझील का जलस्तर बीते दो माह से हर रोज घटता जा रहा था।जिससे पीने के पानी की समस्या भी उतपन्न होने लगी थी,लेकिन अब बारिश भी झील के लिए वरदान साबित हुई है।झील के जलस्तर में ढाई इंच को बढ़ोतरी हुई है।

To Top

You cannot copy content of this page