क्राइम

गुलदार हुआ बदनाम युवती मिली होटल में,युवती ने खुद रची गुलदार वाली कहानी लड़का बताया जा रहा है विशेष समुदाय का

नैनीताल।शुक्रवार देर शाम पंगोट के बगड़ तल्ला तोक तोला निवासी गोधन सिंह महरा की लगभग 22 वर्षीय पुत्री सुमन महरा अचानक घर से गायब हो गयी,ग्रामीणो की गुलदार के ले जाने की शंका पर शुक्रवार रात से ही वन विभाग व ग्रामीण आस पास के जंगलों में लड़की की तलाश करते रहे लेकिन शनिवार शाम को पुलिस ने फोन सर्विलांस पर लगाकर लड़की को एक मुस्लिम युवक के साथ नैनीताल के एक होटल में मिल गयी। इसके बाद युवक वाली होती को कोतवाली में लाया गया जहां पर काउंसलिंग के बाद एसडीएम व एसपी सिटी भी कोतवाली पहुँच गए और लड़की के बयान दर्ज किए गए आगे पढ़ें.…..

यह भी पढ़ें 👉  मां नयना देवी व्यापार मंडल ने की अपर मॉल रोड में तीन घंटे तक यातायात बंद करने की मांग

युवती निकली शातिर खुद रची गुलदार वाली कहानी।शुक्रवार शाम को घर से गायब हुई युवती ने खुद ही अपने को गुलदार के द्वारा ले जाने की कहानी रची थी,जिससे कि सब को लगे को उसको गुलदार ले गया और वो आराम से युवक के साथ भाग सके।जिसके लिए उसने अपने कपड़ों को जंगल में फेंक दिया और मोबाइल का कवर भी रास्ते में फेंक दिया तथा जंगल में थोड़े से खून के धब्बे भी छोड़ दिये ,जिसके बाद वह युवक के साथ नैनीताल होटल में रहने के लिए आ गई।युवती ने बताया कि वह पांच साल से लड़के को जानती है।आगे पढ़ें

ब्लॉक प्रमुख कोटाबाग रवि कन्याल।घटना के बाद से ही में लगातार अधिकारियों के साथ लड़की को खोजने का काम कर रहे है।विशेष समुदाय के युवक द्वारा युवती को बहला फुसलाया गया है।इसमे कई लोग शामिल हो सकते है इसलिए इसकी जांच होनी चाहिए।ये लोग धीरे-धीरे ग्रामीण क्षेत्रो में भी घुसने लगे है जिससे ग्रामीण क्षेत्रो का शांतिप्रिय वातावरण खराब हो रहा है,इसलिए शासन प्रशासन को भी ग्रामीण क्षेत्रों में होमस्टे आदि योजनाओं में स्थानीय लोगों को ही खास तौर पर पहाड़ के लोगों को ही प्राथमिकता दी जानी चाहिए
घटना की सूचना के बाद मल्लीताल कोतवाली में भारी संख्या में हिंदू संगठनों के लोग भी पहुंच गए। वहीं पूर्व भाजपा मंडल अध्यक्ष मनोज जोशी का कहना था कि यह पनाह देने का इनाम है हम लोग इनको अपने घरों में बना देते हैं रोजगार देते हैं और यह ही लोग हमारे बहू बेटियों पर बुरी नजर डाल रहे हैं।कहा कि पहाड़ में भी लव जिहाद का मामले आने लगे है जो कि काफी चिंताजनक है।

To Top

You cannot copy content of this page