शिक्षा

ऑल सेंट्स कॉलेज मे चल रहे साप्ताहिक सांस्कृतिक विनिमय कार्यक्रम के तहत महाराष्ट्र की छात्राओं ने नैनीताल में एकत्र की जानकारी

नैनीताल। ऑल सेंट्स कॉलेज मे चल रहे साप्ताहिक सांस्कृतिक विनिमय कार्यक्रम के दौरान महाराष्ट्र के कुरगांव स्तिथ विराज इंटरनेशनल स्कूल से आई 10 छात्राएं मंगलवार को हिमालय पर्वत की जानकारी जुटाने के लिए केबल कार से स्नो व्यू भ्रमण पर पहुंची जहां से उन्होंने हिमालय श्रृंखला के बारे में जानकारी जुटाई। आज के दिन इन छात्राओं ने प्राचीन नैना देवी मंदिर जाकर देवी के दर्शन किए और मंदिर के पौराणिक इतिहास से भी रूबरू हुईं। इसके अलावा आज इन छात्राओं ने ऑल सेंट्स कॉलेज में वर्ल्ड विशन पब्लिकेशन द्वारा आयोजित बुक फेयर में भी प्रतिभाग किया और देश विदेश की प्रसिद्ध किताबों का अवलोकन किया।आगे पढ़ें

इससे पहले दिन इन छात्राओं ने नैनीताल नगर व आस पास के क्षेत्रों का भ्रमण किया और कुमाऊँ की जलवायु, जीव जंतु, संस्कृति, परंपरा, यहाँ के लोगों के रहन- सहन से रूबरू हुईं। साथ ही यहाँ के लोगों को भी अपने क्षेत्र की विशेषताओं से अवगत कराया। नैनीताल भ्रमण के तहद यह छात्राएं आज ऑल सेंट्स की छात्राओं के साथ, नीब करौरी बाबाजी के दर्शन के लिए कैंची धाम पहुंची और बाबाजी के असीम प्रेम और चमत्कारों से रूबरू हुईं। इसके अलावा यहाँ छात्राओं ने योग और ध्यान के गुर सीखे और इससे मिलने वाले लाभों का ज्ञान प्राप्त किया। छात्राओं का यह दल सातताल, नौकुचियाताल और भीमताल भी पहुंचा। यहां नौकायान और सैर के साथ साथ इन्होंने यहां की जैवविविधता से भी रूबरू कराया गया।इसके अलावा इन छात्राओं ने विद्यालय मे चल रहे एस्ट्रोपाठशाला कार्यशाला मे प्रतिभाग कर हाइड्रोरॉकेट्री के गहन तत्वों की जानकारी ली व रात्रि आकाश अभिविन्यास का आनंद लिया व ज्ञान प्राप्त किया।आगे पढ़ें

यह भी पढ़ें 👉  मां नयना देवी व्यापार मंडल ने की अपर मॉल रोड में तीन घंटे तक यातायात बंद करने की मांग

छात्राओं को टिफिन टॉप के जंगल भी ले जाया गया और यहां उगने वाले पाइन और ओक के पेड़ो के साथ साथ पहाड़ों पर होने वाले औषधीय पौधों की जानकारी भी इन छात्राओं के साथ सांझा की गई।ये छात्राएं यहां 3 मई तक रहकर 4 मई की सुबह महाराष्ट्र के लिए प्रस्थान करेंगी।उससे पहले ये सभी छात्राएं मेजबान विद्यालय की सभी गतिविधियों में प्रतिभाग करेंगी और विनिमय के माध्यम से व्यक्तित्व विकास, संचार कौशल, सामाजिक बोध शक्ति और चौमुखी विकास की ओर सजगता के साथ प्रयासरत रहेंगी।

To Top

You cannot copy content of this page