कुमाऊँ

डीएम वंदना ने किया आपदा प्रभावित बेतालघाट ब्लॉक का निरीक्षण अधिकारियों को दिए दिशा निर्देश

नैनीताल/धारी/कोश्याकुटौली। बुधवार को जिलाधिकारी वंदना ने विकास खण्ड बेतालघाट, तहसील कोश्याकुटौली और बेतालघाट में विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों का भ्रमण एवं विकास योजनाओं का स्थलीय निरीक्षण किया भ्रमण में जिलाधिकारी ने गरमपानी आपदा प्रभावित क्षेत्र, गरमपानी बाजार में मसाला ग्रोथ सेंन्टर, शहीद बलवंत सिंह मोटर मार्ग के आपदा प्रभावित स्थानों,  काली पहाडी बेतालघाट, धारी-खैरना पम्पिंग योजना, मल्लाबर्धों-तल्लाबर्धों जल जीवन मिशन, रतौडापुल, तिवाडीगांव में झूलापुल व जलजीवन मिशन के कार्य, पल्सों प्राथमिक हैल्थ सेंटर, पशुचिकित्सालय तल्लागांव आदि विभिन्न परियोजनाओं एवं विकास कार्यों का निरीक्षण किया।आगे पढ़ें…

निरीक्षण के दौरान डीएम ने गरमपानी आपदा प्रभावित क्षेत्र में बाढ सुरक्षा के अन्तर्गत तटबंध के कार्यों का निरीक्षण करते हुए अधिशासी अभिंयता सिंचाई अनिल वर्मा को  कार्यो में गुणवत्ता एवं मानकों का पालन करने तथा अवशेष कार्यो को नवम्बर माह तक पूर्ण करने के निर्देश दिए। साथ ही छूटे हुए क्षेत्र का सर्वे कर डीपीआर बनाने हेतु निर्देशित किया,  मसाला ग्रोथ सेन्टर गरमपानी के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने कहा की स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने हेतु स्थानीय लोगों को प्रशिक्षित कर स्वरोजगार हेतु प्रेरित करें जिससे ग्रामीण महिलाओं की आर्थिकी मजबूत हो सके। गरमपानी मे निर्माणाधीन पार्किग के निरीक्षण के दौरान क्षेत्रीय लोगों ने जिलाधिकारी को कार्य में धीमी गति, निर्माण कार्य के दौरान मलवा घरों में आने, पानी की निकासी ठीक न होने आदि से अवगत कराया जिलाधिकारी विकास प्राधिकरण  एव पर्यटन विभाग के अधिकारियों कार्यों को  कार्यों में तेजी के साथ ही, कार्य का तकनीकी परीक्षण थर्ड पार्टी समिति से कराने के निर्देश दिए और स्थानीय आम जस-मानस के सुझावों के  अनुकूल कार्य करने को निर्देश दिए।आगे पढ़ें…..

तहसील बेतालघाट मे शहीद बलबंत सिंह मोटर मार्ग काली पहाडी के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने अधिशासी अभिंयता लोनिवि को 15 दिनो के भीतर राज्य आपदा न्यूनीकरण के अंतर्गत तात्कालिक कार्यों एवम प्रथम चरण की डीपीआर तैयार करते हुए उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। धारी-खैरना पम्पिंग लिफ्ट योजना के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने निर्माण कार्यों  की प्रगति की जानकारी लेते हुए कार्यों में गुणवत्ता एवं प्लानिंग के तहत कर जनशिकायतों के निस्तारण हेतु  ग्राम सभा  के साथ समन्वय बनाते हुए ग्रामीणों को पानी मुहैया करने के निर्देश दिए।तिवारी गांव में जल जीवन मिशन के अंतर्गत पेयजल योजना का निरीक्षण के दौरान योजना के अन्तर्गत जिन गांवों में पेयजल लाईन बिछाई जानी है  उपजिलाधिकारी, जलनिगम, जलसंस्थान के अधिकारी गांववासियों से वार्ता कर विवाद समाधान करवाते हुए आपसी समन्वय के साथ पाईप लाईन बिछाने का कार्य 30 अक्टूबर तक कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए।आगे पढ़ें

यह भी पढ़ें 👉  निर्वतमान सभासद जगाती बैठे धरने पर,आमरण अनशन की दी चेतावनी

निरीक्षण के दौरान रतौडा पुल की सुरक्षा हेतु आवश्यक व्यवस्था करने के लिए  अधिशासी अभियंता सिंचाई को राज्य आपदा न्यूनीकरण मद के अंतर्गत स्टीमेट बनाते हुए उपलब्ध करने के निर्देश दिए।तिवाडीगांव घंघरेटी झूला पुल के निरीक्षण के दौरान क्षेत्रीय लोगों ने बताया  कि पुल के अन्तिम छोर में निजी भूमि होने के कारण आवागमन में परेशानी एवं अन्य समस्याओं से अवगत कराया डीएम ने तहसीलदार एवं पटवारी को लोगों की स्थानीय लोगों की आपत्ती का भली भांति परीक्षण करने के उपरांत तथ्यत्मक रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। राजकीय पशु चिकित्सालय ऊंचाकोट के निरीक्षण के दौरान क्षेत्रीय लोगों ने जिलाधिकारी को बताया कि पशुचिकित्सालय में विद्युत व पानी नही है। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारी को विद्युत पानी की आपूर्ति को सुचारु करने हेतु आवश्यक निर्देश दिये। आगे पढ़ें…..

इसके पश्चात जिलाधिकारी  राजकीय इण्टर कालेज  ऊंचाकोट मल्लागॉव में डीएम ने ग्रामीणों की जनसुनवाई करते हुए शिकायतों को मौके पर ही सुनकर निस्तारण किया, इस दौरान हैंड पंप, प्रधान संगठन की विभिन्न मागे,नये गांव  को उन्नत कृषि हेतु कलस्टर पद्धति से जोडने,पेयजल, कृषि भूमि संरक्षण , मोटर मार्ग निर्माण, आधार केन्द्र संचालित, आर्थिक सहायता,आवास, बन्दरो के आतंक से निजात, ट्रांसफार्मर शिफ्ट करने,नहरो की मरम्मत,पेयजल, आपदा के दौरान सडको पर आये मलबा को हटाने, मेरा गांव मेरी सड़क आपदा के दौरान क्षतिग्रस्त की मरमत, डामरीकरण आदि 80 से अधिक जन-समस्याएं प्राप्त हुई। डीएम ने सभी समस्याओं को गंभीरता पूर्वक सुनते हुए अधिकतर समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण करते हुए  शेष समस्याओं को संबंधित विभाग के अधिकारियों को स्थलीय निरीक्षण करने के उपरांत आम जनमानस से समन्वय बनाते हुए समस्याओ का समाधान करने के निर्देश दिए।निरीक्षण के दौरान विधायक सरिता आर्या, उप जिलाधिकारी बीएस पन्त आदि मौजूद रहे।

To Top

You cannot copy content of this page