कुमाऊँ

बनभूलपुरा घटना व किसान आंदोलन का नैनीताल के पर्यटन पर पड़ा असर,होटलों की बुकिंग हुई कैंसिल

नैनीताल। बनभूलपुरा घटना व दिल्ली में किसान आंदोलन के बाद एनसीआर के सैलानी नैनीताल को नही आ रहे है।शनिवार व रविवार वीकेंड पर भी इसका असर दिखने लगा है।इस बार बर्फवारी नही होने के चलते जनवरी फरवरी माह में सैलानी काफी कम संख्या में नैनीताल पहूंचे थे और अब बीते सप्ताह बनभूलपुरा घटना और दिल्ली में किसान आंदोलन के बाद अब वीकेंड पर आने वाले सैलानियों ने भी नैनीताल से मुंह मोड़ लिया है।जिसके चलते पर्यटन पर आधारित स्थानीय व्यापारियों को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है।वही पूरे सप्ताह भक्तों से भरा रहने वाला कैंची धाम में भी भक्तों की संख्या में काफी कमी आयी है।आगे पढ़ें

यह भी पढ़ें 👉  जिला बार के निर्वाचित पदाधिकारियो ने ली पद व गोपनीयता की सपथ

होटलों की बुकिंग हुई कैंसिल,नगर में पसरा सन्नाटा।किसान आंदोलन व बनभूलपुरा घटना के बाद से शुक्रवार से रविवार तक पर्यटकों से गुलजार रहने वाली सरोवर नगरी में सन्नाटा पसरा हुआ है।वही आगे भी स्थिति सामान्य नही होने से अब होटलों की अग्रिम बुकिंग भी कैंसिल होने लगी है।जिसके चलते होटल कारोबारियों सहित अन्य छोटे व्यापारियों को नुकसान उठाना पड़ रहा है।आगे पढ़ें

रमनजीत सिंह उपसचिव होटल व रेस्टोरेंट एसोसिएशन नैनीताल।बर्फवारी नही होना, बनभूलपुरा घटना व किसान आंदोलन का नैनीताल के पर्यटन पर काफी असर पड़ा है।लोग नैनीताल आने से कतरा रहे है जिसके चलते इस वीकेंड पर कई होटलों की बुकिंग भी कैंसिल हुई है।और अगर जल्द स्तिथि सामान्य नही हुई तो आने वाले वीकेंड पर भी इसका असर पड़ सकता है।

To Top

You cannot copy content of this page